Bejhijhak Muskuraaye Jo Bhee G

Hindi Poetry

-

Bejhijhak Muskuraaye Jo Bhee G


bejhijhak muskuraaye jo bhee gam hai

बेझिझक मुस्कुराये जो भी गम है

जिंदगी में टेंशन किसको कम है

अच्छा या बुरा तो केवल भ्रम है

जिंदगी का नाम ही कभी ख़ुशी कभी गम है

Get Latest SMS/Poetry in your email address :


Similar hindi poetry